ड्रेगन को माकूल जबाव देने सेना के साथ बॉर्डर पर “परशु” भी रहेगा तैनात

Spread the love

खबर या कोई लाइन सुनने के लिए सिलेक्ट करके टच करें 🎼🔊

ड्रेगन को माकूल जबाव देने सेना के साथ बॉर्डर पर “परशु” भी रहेगा तैनात Along with the army, “Parshu” will also be stationed on the border to give a befitting reply to the dragons

-विप्र फाउंडेशन की ओर से स्थापित की जाने वाली 51 फ़ीट ऊंची परशुराम प्रतिमा की केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रखी आधारशिला Union Home Minister Amit Shah laid the foundation stone of 51 feet high Parashuram statue to be installed by Vipra Foundation

विफा जॉन1-बी ने जताई प्रसन्नता


लोहित/बीकानेर 21 मई। ड्रेगन ( चीन) की घुसपैठ की हर तरह की हरकतों पर सैनिकों के साथ विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम भी दिव्य ज्योति पुंज से पैनी नजर रखेंगे तथा उनका “परशु” चीन को भारतीय सीमा में प्रवेश न करने के लिए ललकारता नजर आएगा।

इसके लिए अरुणाचल में लोहित नदी के तट पर स्थित परशुराम कुंड पर विप्र फाउंडेशन की ओर से 51 फ़ीट ऊंची दिव्य प्रतिमा स्थापित की जा रही है जिसकी शनिवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भूमिपूजन कर विधिवत नींव रखी। शाह ने इसके साथ ही यहां परशुराम कुंड स्थल पर मंदिर का जीर्णोद्धार कर स्थापित की गई 6 फ़ीट की परशुराम जी की प्रतिकृति का पूजा अर्चना कर अनावरण किया।विप्र फाउंडेशन के पदाधिकारियों के साथ ग्रुप फ़ोटो भी खिंचवाया। केंद्र की प्रसाद योजना के तहत विकसित की जा रही इस परियोजना में केंद्र व अरुणाचल सरकार के साथ विप्र फाउंडेशन प्रमुख रूप से भागीदार बना है। 51 फ़ीट ऊंची प्रतिमा की स्थापना विप्र फाउंडेशन ही करवा रहा है। शाह ने इसके लिए विप्र फाउंडेशन की सराहना भी की।

इनकी रही उपस्थिति

भूमिपूजन समारोह में शाह के साथ अरुणाचल के मुख्यमंत्री पेमा खांडू, उप मुख्यमंत्री चोवना मेन, केन्द्रीय मंत्री किरेन रिजिजू, राज्य सरकार के कई मंत्री, विधायक, श्री हरिहर बाबा, विप्र फाउंडेशन के संरक्षक रतन शर्मा (गुवाहाटी), भगवान परशुराम तीर्थोंन्नय समिति के मुख्य संयोजक धर्मनारायण जोशी (उदयपुर), विप्र फाउंडेशन के संस्थापक सुशील ओझा ( कोलकाता), राष्ट्रीय अध्यक्ष राधेश्याम गुरुजी (इंदौर), राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भरतराम तिवाड़ी (,कोलकाता), महामंत्री डॉ सीए सुनील शर्मा ( मुंबई), प्रमोद बारेगामा ( कपासन), राष्ट्रीय सचिव परमेश्वर शर्मा( सालासर), संजय त्रिवेदी (तिनसुखिया), तोलाराम तावनिया के साथ बड़ी संख्या में प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी मौजूद थे। समारोह में राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त देश के विख्यात मूर्तिकार नरेश कुमावत भी मौजूद थे। वे ही विप्र फाउंडेशन की ओर से इस दिव्य मूर्ति का निर्माण कर रहे हैं।



तीर्थ के साथ पर्यटन भी

केंद्र सरकार की “प्रसाद” योजना पर्यटन मंत्रालय के अधीन हैं और इस क्षेत्र को विकसित भी धार्मिक के साथ पर्यटन स्थल के रूप में किया जा रहा है। इसके लिए अरुणाचल सरकार ने 75 हेक्टेयर की जो कार्य योजना बनाई है उसमें रिवर फ्रंट रेस्तरां, व्यूह पॉइंट, चिल्ड्रेन पार्क सहित अनेक सुविधा क्षेत्र विकसित किए जाएंगे। मकर संक्रांति पर भरने वाले मेले के विस्तार की भी योजना है।

पीएम की विशेष रुचि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी परशुराम कुंड को देश के प्रमुख तीर्थ स्थल के रूप में विकसित…………….

………. …….. करने में विशेष रुचि ले रहे हैं। मोदी ने ही 2021 में सबसे पहले केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को परशुराम कुंड विकास की आधारशिला रखने को भेजा था। मूर्ति स्थापना कार्य में भी गजेन्द्र सिंह शेखावत का महत्वपूर्ण योगदान है।

सभी की सहभागिता

अरुणाचल प्रदेश स्थित परशुराम कुंड को देश के प्रमुख तीर्थ स्थल के रूप में विकसित करने में सहभागी बनी संस्था विप्र फाउंडेशन प्रतिमा स्थापना में सभी सनातनियों से सहयोग लेगी ताकि परशुरामजी केवल ब्राह्मणों के आराध्य के बने गलत मिथक को समाप्त किया जा सके। पूर्वोत्तर के इस तीर्थाटन क्षेत्र का मूर्ति स्थापना से पूरे देश से भी आत्मीय जुड़ाव हो जाएगा, क्योंकि विप्र फाउंडेशन ब्राह्मणों का वैश्विक संगठन हैं।


इन्होंने जताई प्रसन्नता


अरुणाचल के लोहित में हुए विप्र फाउंडेशन के भव्य कार्यक्रम को लेकर विफा जॉन 1-बी ने प्रसन्नता जताई है।जॉन के प्रदेशाध्यक्ष भंवर पुरोहित,विफा के राष्ट्रीय संरक्षक मधु आचार्य,ताराचंद सारस्वत व सत्यनायण शर्मा रिड़ी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व जॉन प्रभारी दीपक पारीक,युवा प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष गोपाल तिवाड़ी,प्रकोष्ठ प्रदेश महामंत्री दिनेश ओझा,बीकानेर शहर जिलाध्यक्ष नारायण पारीक,देहात जिलाध्यक्ष शिव शर्मा,प्रदेश कार्यालय मंत्री रमेशचन्द्र उपाध्याय,युवा प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष त्रिलोक नारायण पुरोहित,शहर महिला प्रकोष्ठ प्रदेश महामंत्री आशा पारीक आदि ने प्रसन्नता व्यक्त की।

………. …….. करने में विशेष रुचि ले रहे हैं। मोदी ने ही 2021 में सबसे पहले केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को परशुराम कुंड विकास की आधारशिला रखने को भेजा था। मूर्ति स्थापना कार्य में भी गजेन्द्र सिंह शेखावत का महत्वपूर्ण योगदान है।

सभी की सहभागिता

अरुणाचल प्रदेश स्थित परशुराम कुंड को देश के प्रमुख तीर्थ स्थल के रूप में विकसित करने में सहभागी बनी संस्था विप्र फाउंडेशन प्रतिमा स्थापना में सभी सनातनियों से सहयोग लेगी ताकि परशुरामजी केवल ब्राह्मणों के आराध्य के बने गलत मिथक को समाप्त किया जा सके। पूर्वोत्तर के इस तीर्थाटन क्षेत्र का मूर्ति स्थापना से पूरे देश से भी आत्मीय जुड़ाव हो जाएगा, क्योंकि विप्र फाउंडेशन ब्राह्मणों का वैश्विक संगठन हैं।


इन्होंने जताई प्रसन्नता


अरुणाचल के लोहित में हुए विप्र फाउंडेशन के भव्य कार्यक्रम को लेकर विफा जॉन 1-बी ने प्रसन्नता जताई है।जॉन के प्रदेशाध्यक्ष भंवर पुरोहित,विफा के राष्ट्रीय संरक्षक मधु आचार्य,ताराचंद सारस्वत व सत्यनायण शर्मा रिड़ी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व जॉन प्रभारी दीपक पारीक,युवा प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष गोपाल तिवाड़ी,प्रकोष्ठ प्रदेश महामंत्री दिनेश ओझा,बीकानेर शहर जिलाध्यक्ष नारायण पारीक,देहात जिलाध्यक्ष शिव शर्मा,प्रदेश कार्यालय मंत्री रमेशचन्द्र उपाध्याय,युवा प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष त्रिलोक नारायण पुरोहित,शहर महिला प्रकोष्ठ प्रदेश महामंत्री आशा पारीक आदि ने प्रसन्नता व्यक्त की।

गूगल ट्रांसलेट नीचे पढ़ें

Along with the army, “Parshu” will also be stationed on the border to give a befitting reply to the dragons.

Union Home Minister Amit Shah laid the foundation stone of 51 feet high Parashuram statue to be installed by Vipra Foundation

Vifa John 1-B expressed happiness


Lohit/Bikaner 21 May. Lord Parashurama, the sixth incarnation of Vishnu along with the soldiers, will also keep a close watch on the divine light beam and his “Parshu” will be seen challenging China not to enter the Indian border.

For this, a 51-feet high divine statue is being installed by Vipra Foundation at Parashuram Kund on the banks of Lohit river in Arunachal, for which Union Home Minister Amit Shah duly laid the foundation stone on Saturday. Along with this, Shah also unveiled a 6-feet replica of Parashuram ji installed by renovating the temple at the Parashuram Kund site here. The Vipra Foundation along with the Center and the Arunachal government has become a major partner in this project being developed under the Centre’s PRASAD scheme. Vipra Foundation is getting the 51 feet high statue installed. Shah also appreciated the Vipra Foundation for this.

their presence

Shah was accompanied by Arunachal Chief Minister Pema Khandu, Deputy Chief Minister Chowna Main, Union Minister Kiren Rijiju, several state government ministers, MLAs, Shri Harihar Baba, Vipra Foundation Patron Ratan Sharma (Guwahati), Chief of Bhagwan Parashuram Teerthonnaya Samiti Convenor Dharmanarayan Joshi (Udaipur), founder of Vipra Foundation Sushil Ojha (Kolkata), National President Radheshyam Guruji (Indore), National Vice President Bharatram Tiwari (Kolkata), General Secretary Dr. CA Sunil Sharma (Mumbai), Pramod Baregama (Kapasan), National A large number of administrative and police officers were present along with Secretary Parmeshwar Sharma (Salasar), Sanjay Trivedi (Tinsukhia), Tolaram Tawania. National award winning country’s eminent sculptor Naresh Kumawat was also present in the ceremony. He is building this divine idol on behalf of Vipra Foundation.



Tourism as well as pilgrimage

The Central Government’s “Prasad” scheme is under the Ministry of Tourism and this area is being developed as a tourist destination as well as religious. For this, in the 75 hectare action plan prepared by the Arunachal government, many convenience areas including river front restaurant, view point, children park will be developed. There are also plans to expand the fair that will be filled on Makar Sankranti.

PM’s special interest

Prime Minister Narendra Modi is taking special interest in developing Parshuram Kund as a major pilgrimage site of the country. In 2021, it was Modi who first sent Union Water Resources Minister Gajendra Singh Shekhawat to lay the foundation stone of Parshuram Kund development. Gajendra Singh Shekhawat also has an important contribution in the idol installation work.

everyone’s participation

Vipra Foundation, an organization involved in the development of Parashuram Kund in Arunachal Pradesh as a major pilgrimage site in the country, will take cooperation from all the Sanatanis in the installation of the statue so that Parashuramji can end the wrong myth that Parashuramji is worshiped only by Brahmins. The installation of the idol of this pilgrimage area of the Northeast will also lead to an intimate connection with the whole country, because Vipra Foundation is a global organization of Brahmins.


they expressed happiness


WIFA John 1-B has expressed happiness about the grand program of Vipra Foundation held in Lohit, Arunachal. Youth Cell State President Gopal Tiwari, Cell State General Secretary Dinesh Ojha, Bikaner City District President Narayan Pareek, Countryside District President Shiv Sharma, State Office Minister Ramesh Chandra Upadhyay, Youth Cell District President Trilok Narayan Purohit, City Women Cell State General Secretary Asha Pareek etc expressed happiness.

%d bloggers like this: