‘राजस्थान के मौजूदा उर्दू शाइर’ का लोकार्पण, स्कॉलर्स एवं उर्दू अदीबों के लिए उपयोगी एवं सराहनीय पुस्तक :  क़ासिम बीकानेरी

Spread the love

खबर या कोई लाइन सुनने के लिए सिलेक्ट करके टच करें 🎼🔊

पुस्तक -‘राजस्थान के मौजूदा उर्दू शाइर’ : सम्पादक – प्रो० प्रेमशंकर श्रीवास्तव ‘शंकर’ (उर्दू लिपि में) का लोकार्पण :-
____________________________________________
स्कॉलर्स एवं उर्दू अदीबों के लिए उपयोगी एवं सराहनीय पुस्तक :  क़ासिम बीकानेरी
————————————————————————
बीकानेर 21 मई 2022
नगर के शाइर,अनुवादक एवं कहानीकार क़ासिम बीकानेरी ने विशिष्ट अतिथि के तौर पर जोधपुर की होटल चंद्रा इन में प्रोफ़ेसर प्रेम शंकर श्रीवास्तव ‘शंकर’ की किताब राजस्थान के मौजूदा उर्दू शाइर, डॉ अज़ीज़ुल्लाह शिरानी द्वारा उर्दू लिप्यान्तरण पुस्तक के लोकार्पण समारोह में बतौर विशिष्ट अतिथि शिरकत की।
  ‘ख़ुशदिलान-ए-जोधपुर’ व ‘सर्जनात्मक सन्तुष्टि संस्थान’ के संयुक्त तत्वावधान में होटल चन्द्रा झ्न के सभागार में राजस्थान साहित्य अकादमी, उदयुपर द्वारा 56 वर्ष पूर्व देवनागरी लिपि में प्रकशित प्रेम शंकर श्रीवास्तव ‘शंकर’ द्वारा सम्पादित उपरोक्त उर्दू भाषा के वृहद ग्रंथ के उर्दू लिपि में पुनर्प्रकाशित नयी पुस्तक के प्रथम संस्करण का मंचासीन विभूतियों द्वारा लोकार्पण किया गया। 


          इस वृहद ग्रंथ का उर्दू लिप्यान्तरण डॉ० अज़ीज़ुल्लाह शीरानी (टोंक) ने किया है तथा प्रकाशन श्री क़ासिम बीकानेरी (बीकानेर) ने। सम्पूर्ण प्रकाशन व्यय हाफ़िज़ वली अहमद ख़ाँ (अहमदाबाद) ने वहन किया है। इस महत्वपूर्ण कार्य के लिए इन तीनों माननीय अतिथियों को सूर्यनगरी जोधपुर की दोनों आयोजक संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया गया। 

इस साहित्यिक कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रसिद्ध कथाकार हरि प्रकाश राठी (जोधपुर) ने की तथा संचालन अनिल अनवर (जयपुर) द्वारा किया ग़या। समारोह में नगर के साहित्यकार व साहित्य प्रेमी जन बड़ी संख्या में उपस्थित रहे। मौलाना आज़ाद उर्दू विश्वविद्यालय, जोधपुर के कुलपति डॉ० जमील काज़मी की समारोह में पूरे समय उपस्थिति रहे।

%d bloggers like this: