गंगाशहर में आचार्य तुलसी आपातकालीन विभाग कार्यों का उद्घाटन, लाखों की सौगात की घोषणा

Spread the love

खबर या कोई लाइन सुनने के लिए सिलेक्ट करके टच करें 🎼🔊

*शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला ने गंगाशहर सेटेलाइट अस्पताल में आचार्य तुलसी आपातकालीन विभाग के नवनिर्माण और साज सज्जा कार्यों का किया उद्घाटन*
*अस्पताल को दी अनेक सौगातें*
बीकानेर , 12 जून। शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने रविवार को गंगाशहर सेटेलाइट अस्पताल में आचार्य तुलसी आपातकालीन विभाग के नवनिर्माण और साज सज्जा कार्यों का उद्घाटन किया। गंगाशहर नागरिक परिषद की प्रेरणा से भामाशाह मोटाराम सूरजमल दुग्गड़ परिवार और कानीराम डाकलिया परिवार की ओर से यह कार्य करवाए गए हैं।


इस अवसर पर शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला ने अस्पताल को अनेक सौगातें देते हुए कहा कि अस्पताल के प्रसूति गृह को तत्काल प्रारंभ करवा दिया जाएगा। यहां एक ऑटो एनालाइजर की व्यवस्था भी करवाई जाएगी। एक डिजिटल एक्सरे मशीन उपलब्ध करवाई जाएगी तथा 10 नर्सिंग और पैरामेडिकल स्टाफ की तत्काल नियुक्ति की जाएगी। इस अवसर पर उन्होंने यहां सुविधाएं विकसित करने के लिए विधायक निधि से 21 लाख रुपए के कार्य करवाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि गंगाशहर नागरिक परिषद के प्रस्तावों के अनुरूप यह कार्य करवाए जाएंगे । डॉ. कल्ला ने कहा कि डीएमएफटी फंड से भी यहां 50 लाख रुपए के कार्य करवाने का प्रयास किया जाएगा।


शिक्षा मंत्री ने कहा कि इस अस्पताल की अगले 25 वर्षों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए ‘मास्टर प्लान’ तैयार किया जाए, जिसके आधार पर यहां भामाशाह और सरकार के सहयोग से यहां उच्च स्तरीय सुविधाएं विकसित की जा सके।
डॉ कल्ला ने कहा कि पहला सुख निरोगी काया की भावना से राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं को सर्वोपरि रखते हुए आमजन के हित में मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, मुख्यमंत्री निशुल्क दवा ,निशुल्क जांच जैसी योजनाएं लागू की हैं। इन योजनाओं का उद्देश्य राज्य के प्रत्येक व्यक्ति के स्वास्थ्य की सुरक्षा सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अक्टूबर में राजस्थान इन्वेस्टर सम्मिट आयोजित किया जाएगा, जिसके माध्यम से प्रदेश में अधिक से अधिक निवेश को आमंत्रित करने के प्रयास किए जाएंगे।


डॉ कल्ला ने कहा कि भीनासर जवाहर सीनियर सेकेंडरी स्कूल में दो कक्ष और एक भवन बनाने के लिए 33.69 लाख रुपए स्वीकृत किए गए हैं, यह कार्य शीघ्र प्रारंभ कर दिया जाएगा। संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के. पवन ने कहा कि गंगाशहर क्षेत्र के समस्त अतिक्रमणों को शीघ्र हटवाया जाएगा तथा मुख्य सड़क की थडियों को अन्यत्र शिफ्ट किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा के अनुरूप प्रारंभ की गई योजनाओं को लागू करने में किसी स्तर पर कोई कोताही नहीं बरती जाएगी।
महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने कहा कि गंगाशहर दानशीलता व सेवा भावना के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा कि आपातकालीन विभाग का नवीनीकरण इसी श्रंखला की एक कड़ी है।


कार्यक्रम में चंपालाल डागा, डॉ. सुरेंद्र वर्मा, हजारीमल देवड़ा, राजेश दाधीच, नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष महावीर रांका, पूर्व महापौर नारायण चोपड़ा, पीबीएम अधीक्षक डॉ पी.के सैनी, मदन मरोठी, अस्पताल प्रभारी डॉ मुकेश वाल्मीकि, अरविंद मिड्ढा, भामाशाह कानीराम डाकलिया सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। इस अवसर पर शिक्षा मंत्री द्वारा भामाशाहों का सम्मान भी किया गया। कार्यक्रम में कन्हैया लाल बोथरा, गिरिराज सेवग, निर्मल भूरा, संपत डागा, डॉ. संगीता सेठिया, डॉ. पीसी तातेड़, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी डॉ. राजकुमार शर्मा, डीईओ सुरेंद्र सिंह भाटी, एडीइओ सुनील बोड़ा, भंवर लाल शर्मा, इंद्र चंद सिंघी, सोहन चौधरी, संपत्त दूगड़, कन्हैयालाल सोनावत , मांगीलाल सेठिया, विनोद बाफना, सुरेंद्र बद्धाणी , विजय कोचर, चंपकमल सुराणा, शुभकरण डागा, चंपालाल चोपड़ा, अशोक संचेती, जतन लाल दूगड़, ईश्वर चंद दूगड़, राजकुमार दूगड़, सुमित दूगड़ और शांतिलाल डाकलिया आदि मौजूद रहे।

%d bloggers like this: