बीकानेर : डॉक्टरों, जवानों सहित पूरे गाँव ने मिलकर ‘गरीब बहिन’ की शादी धूमधाम से करवाई

Spread the love

खबर या कोई लाइन सुनने के लिए सिलेक्ट करके टच करें 🎼🔊

युगपक्ष

खाजूवाला । खाजूवाला के सीमावर्ती गांव 14 बीडी में मंगलवार को एक गरीब कन्या की शादी में डॉक्टर व बीएसएफ के जवान मायरा भरने पहुंचे। इतना ही नहीं कैंसर से पिता की मौत होने पर लड़की की शादी का खर्च गाँव वालों ने ही उठाया।

जीवनदायिनी ब्लड सेवा समिति ने दहेज में ज़रूरत का सामान दिया वहीं भोजन की व्यवस्था
गाँव के युवाओं द्वारा की गयी। 14 बी.डी. में डॉक्टर, बीएसएफ के जवानों, बेआश्रित गो सेवा टीम, जीवनदायिनी ब्लड सेवा समिति द्वारा सामाजिक परम्पराओं का निर्वहन कर सामाजिक
फर्ज निभाया गया। क्योंकि भागवंती के पिता की मौत तीन साल पहले कैंसर से हो गई। ऐसे में गांव के युवाओं, जनप्रतिनिधियों व अन्य लोगों ने धर्म
निभाया और एक बहन को अहसास दिलाया कि पूरा गांव एक परिवार की तरह है।

सावित्री देवी के घर पहुंचकर भागवन्ती की शादी में डॉक्टर पूनाराम रोझ व बीएसएफ के विनोद डारा ने मायरा भरा। वहीं सीमा सुरक्षा बल देश की सीमाओं के साथ सामाजिक सरोकार भी निभा रहा है। बीएसएफ की 127 वी वाहनी द्वारा गरीब परिवार की बेटी की शादी में सहयोग कर इसका उदाहरण पेश किया है। इसके साथ ही क्षेत्र के भामाशाहों व सामाजिक संस्थाओं को भी प्रेरित कर गरीब बेटी का धूमधाम से विवाह करवाया है।

लिखमाराम के अनुसार जीवनदायिनी ब्लड सेवा समिति बीकानेर व बेआश्रित गो सेवक 14 बीडी, सीमा सुरक्षा बल 127वी वाहिनी की हिमगिरी के कमांडर निशाकान्त
चतुर्वेदी सहित जवानों के द्वारा मिलकर शादी का पूरा खर्चा उठाया गया। जिसमें जीवनदायिनी ब्लड सेवा समिति खाजूवाला हॉस्पिटल के चिकित्सक
पुनाराम रोझ, विनोद डारा के द्वारा बालिका की शादी में भात (मायरा) भरा गया। वही बेआश्रित गौ सेवा सेवक 14 बीडी की ओर से बारातियों व परिवार के लिए भोजन की व्यवस्था की गई। वही
सीमा सुरक्षा बल हिमगिरि के जवानों ने बालिका की शादी में उपहार स्वरूप 121 बर्तन उपलब्ध करवाए।

Leave a Reply